जब चढ़ जाए पैर की नस

जब चढ़ जाए पैर की नस

जब चढ़ जाए पैर की नस

कुछ लोगों को अक्सर सोते समय पैर की नस चढ़ने की शिकायत होती है। इस दौरान पैर में असहनीय दर्द होता है। दो से पांच मिनट तक नसों की जकड़न रहने के बाद भी काफी देर तक पैर में दर्द की शिकायत बनी रहती है।
कारण

डायरिया,डाइयूरेटिक, डायबिटीज, डिहाइड्रेशन, एल्कोहल का ज्यादा सेवन, अत्यधिक थकान, पार्किंसन बीमारी या इसके अलावा बीपी या गर्भनिरोधक दवाइयों का सेवन।
ऎसे पाएं दर्द से राहत

जैसे ही जकड़न महसूस हो, कमरे में ही थोड़ा सा टहलना शुरू कर दें।
खड़े होकर धीरे-धीरे पैर को हिलाएं।

खड़े होकर या बैठकर पिंडली की नसों को स्टे्रच करने की कोशिश करें।
बैठकर अपने पैर के पंजों को घुटने की तरफ मोड़े और कुछ देर खुद को इसी पोजीशन में रखें।
ज्यादा दर्द रहने पर सोते समय पैरों के नीचे मोटा तकिया रखकर सोएं।
कोशिश करें की बिल्कुल सीधे ना सोएं।

दीवार के सहारे खड़े होकर अपने दोनों हाथ दीवार पर रखें और अपने पैर को पीछे की तरफ लेते हुए स्ट्रेच करने की कोशिश करें।
एंठन उतरने के बाद भी यदि दर्द हो तो बर्फ से सिकाई करें या फिर गुनगुने पानी में नमक डालकर उसमें थोड़ी देर पैर रखें। अगर फिर भी आराम नहीं हो तो अगले दिन डॉक्टर को दिखाएं।
अधिक से अधिक पानी पिएं।

पैर को स्ट्रेच करते हुए हाथों से पैर के अंगूठे को टच करें।