नकसीर के उपचार

नकसीर के उपचार

नकसीर के उपचार

नकसीर के उपचार के घरेलू नुस्खेज्यादा गर्मी के कारण नाक से खून बहने लगता है जिसे नकसीर कहते हैं। नकसीर के उपचार के कई घरेलू नुस्खे हैं। वैसे नाक से खून निकलना अपने आप में कोई रोग नहीं है लेकिन, जब बार-बार नाक से खून निकलता है तब यह एक रोग बन जाता है। कभी-कभी तो नाक से खून निकलने के कारण यह खून पेट में भी चला जाता है। नकसीर की समस्या मौसम के अनुसार शरीर में अधिक गर्मी बढने से भी होती है। कुछ लोगों को नकसीर की समस्या अधिक गर्म खाद्य-पदार्थ खाने से भी हो जाता है। आइए हम आपको नकसीर के उपचार के लिए घरेलू नुस्खे बताते हैं।

नकसीर के लिए घरेलू नुस्खे – नकसीर की समस्या होने पर प्याज को काटकर नाक के पास रखकर सूंघिए। काली मिट्टी पर पानी छिड़ककर इसकी खुश्बू को सूंघिए, नकसीर में फायदा होगा। रुई के फाहे को सफेद सिरके में भिगोकर उसे नाक की ओर रखिए जहां से खून बह रहा हो। जब नाक से खून बह रहा हो तो कुर्सी पर पीठ रखे बिना बैठ जाइए, इस बीच नाक की बजाए मुंह से सांस लीजिए। खून निकलते समय सिर को आगे की तरफ मत झुकाइए बल्कि सिर को पीछे की तरफ ही रखिए। ठंडे पानी में भीगे हुए रुई के छोटे टुकडे को नाक पर रखें। रुई के छोटे-छोटे टुकडों को पानी में भिगोकर फ्रीजर में रख लें। इन ठंडे टुकडों से नाक की सिकाई कीजिए। नकसीर की समस्या जब हो तब धूम्रपान (एक्टिव या पैसिव दोनों) करने से बचें। साफ हरे धनिए की पत्तियों के रस की कुछ बूंदों को नाक में डाल लीजिए, इससे राहत मिलेगी। जब रोगी की नाक से खून निकले तो रोगी के सिर को ठंडे पानी से धुलिए। इससे रोगी की नाक से खून निकलना बंद हो जाएगा। रोगी के दोनों हाथों में बर्फ के टुकड़े रखने चाहिए तथा रोगी की नाक पर बर्फ को कपडे में लपेट कर रोगी के सिर के नीचे रखना चाहिए। नाक से खून निकलने के समय रोगी व्यक्ति के हाथ के अंगूठे और तर्जनी उंगुली के बीच की नस को दबाने से भी नाक से खून निकलना बंद हो जाता है। रोगी व्यक्ति की नाक पर हर रोज सरसों का तेल लगाना चाहिए इससे नकसीर फूटने का रोग ठीक हो जाता है। ठंडे पानी में नींबू का रस मिलाकर नाक से अन्दर खींचने से भी नाक से खून निकलना बंद हो जाता हैं। नाक से खून निकलने पर रोगी के माथे पर लाल या पीला चंदन, मुल्तानी मिट्टी का लेप लगाने से नाक से खून निकलना बंद हो जाता है। थोड़े से पानी में फिटकरी का पाउडर घोलकर नाक में डालने से नाक से खून निकलना बदं हो जाता है। अंगूर के रस की पाँच बूँदें नाक में टपकाने से नकसीर रोग में फायदा होता है। गर्मी में नकसीर की समस्या से बचने के लिए ठंडे पेय पदार्थों का प्रयोग कीजिए। कभी-कभी पुराने जुकाम के कारण भी नकसीर होने की संभावना होती है। घरेलू नुस्खे अपनाने के बाद भी अगर आपको नकसीर से निजात नहीं मिल रही है तो चिकित्सक से संपर्क अवश्य कीजिए।
ज्यादा गर्मी के कारण नाक से खून बहने लगता है जिसे नकसीर कहते हैं। नकसीर के उपचार के कई घरेलू नुस्खे हैं। वैसे नाक से खून निकलना अपने आप में कोई रोग नहीं है लेकिन, जब बार-बार नाक से खून निकलता है तब यह एक रोग बन जाता है।

कभी-कभी तो नाक से खून निकलने के कारण यह खून पेट में भी चला जाता है। नकसीर की समस्या मौसम के अनुसार शरीर में अधिक गर्मी बढने से भी होती है। कुछ लोगों को नकसीर की समस्या अधिक गर्म खाद्य-पदार्थ खाने से भी हो जाता है। आइए हम आपको नकसीर के उपचार के लिए घरेलू नुस्खे बताते हैं।

नकसीर के लिए घरेलू नुस्खे

नकसीर की समस्या होने पर प्याज को काटकर नाक के पास रखकर सूंघिए।
काली मिट्टी पर पानी छिड़ककर इसकी खुश्बू को सूंघिए, नकसीर में फायदा होगा।
रुई के फाहे को सफेद सिरके में भिगोकर उसे नाक की ओर रखिए जहां से खून बह रहा हो।
जब नाक से खून बह रहा हो तो कुर्सी पर पीठ रखे बिना बैठ जाइए, इस बीच नाक की बजाए मुंह से सांस लीजिए।
खून निकलते समय सिर को आगे की तरफ मत झुकाइए बल्कि सिर को पीछे की तरफ ही रखिए।
ठंडे पानी में भीगे हुए रुई के छोटे टुकडे को नाक पर रखें। रुई के छोटे-छोटे टुकडों को पानी में भिगोकर फ्रीजर में रख लें। इन ठंडे टुकडों से नाक की सिकाई कीजिए।
नकसीर की समस्या जब हो तब धूम्रपान (एक्टिव या पैसिव दोनों) करने से बचें।
साफ हरे धनिए की पत्तियों के रस की कुछ बूंदों को नाक में डाल लीजिए, इससे राहत मिलेगी।
जब रोगी की नाक से खून निकले तो रोगी के सिर को ठंडे पानी से धुलिए। इससे रोगी की नाक से खून निकलना बंद हो जाएगा।
रोगी के दोनों हाथों में बर्फ के टुकड़े रखने चाहिए तथा रोगी की नाक पर बर्फ को कपडे में लपेट कर रोगी के सिर के नीचे रखना चाहिए।
नाक से खून निकलने के समय रोगी व्यक्ति के हाथ के अंगूठे और तर्जनी उंगुली के बीच की नस को दबाने से भी नाक से खून निकलना बंद हो जाता है।
रोगी व्यक्ति की नाक पर हर रोज सरसों का तेल लगाना चाहिए इससे नकसीर फूटने का रोग ठीक हो जा

ता है।
ठंडे पानी में नींबू का रस मिलाकर नाक से अन्दर खींचने से भी नाक से खून निकलना बंद हो जाता हैं।
नाक से खून निकलने पर रोगी के माथे पर लाल या पीला चंदन, मुल्तानी मिट्टी का लेप लगाने से नाक से खून निकलना बंद हो जाता है।
थोड़े से पानी में फिटकरी का पाउडर घोलकर नाक में डालने से नाक से खून निकलना बदं हो जाता है।
अंगूर के रस की पाँच बूँदें नाक में टपकाने से नकसीर रोग में फायदा होता है।
गर्मी में नकसीर की समस्या से बचने के लिए ठंडे पेय पदार्थों का प्रयोग कीजिए। कभी-कभी पुराने जुकाम के कारण भी नकसीर होने की संभावना होती है। घरेलू नुस्खे अपनाने के बाद भी अगर आपको नकसीर से निजात नहीं मिल रही है तो चिकित्सक से संपर्क अवश्य कीजिए।