वजन कम करने के फयदे

वजन कम करने के फयदे

वजन कम करने के फयदे

जब आप सुनते हैं कि किसी आदमी का वेट आवश्यकता से अधिक बढ़ गया है तो आप के मन में उसके प्रति एक बढ़ा हुआ पेट और चलने फिरने में असमर्थ दिखने वाले व्यक्ति की तस्वीर निकलकर सामने आने लगती है। यह सच भी है कि बड़े हुए पेट के कारण आदमी एक साथ कई तरह की परेशानी से मुबतला हो जाता है और इस बीमारी के पीछे कई कारण होते है।

आदमी में वजन का बढ़ना एक्सारसाइज की कमी, तनाव, हार्मोनल असुंतुलन और खान–पान की गलत आदतों व आराम तलब जीवन के कारण होता है। तेजी से भागती दौड़ती जिंदगी में काम का प्रेशर और तनाव के कारण आदमी को एक्सरसाइज करने का फुर्सत नहीं मिल पाता है।

मोटापे में पेट का मोटा होना सबसे अधिक खतरनाक माना जाता है जो बीमारियों की खान होता है और एक तरह से पेट बढ़ने पर इसे साइलेंट किलर समझा जाता है। मोटापा में यदि आदमी शराब पीता हो और धुम्रपान करता हो तो उसे हृदय रोग, डायबिटीज, लिवर और किडनी की समस्याएं होना आम हो जाती है। तनाव की हालत में अक्सर व्यक्ति तनाव से छुटकारा पाने के लिए सिगरेट, शराब या तंबाकु का सहारा लेता है ताकि उसका तनाव कम हो जाए । बहुत से लोग अपने स्वास्थ्य और फिटनेस पर तबतक ध्यान नहीं देते हैं जबतक कि उनके शरीर में किसी तरह की कोई परेशानी नहीं होती है। कुछ पुरूष भी महिलाओं की तरह बीमारी होने पर उसे टालते रहते है और अंतिम अवस्था में जाकर उसका इलाज कराते है। आदमी अपने जीवन में स्वस्थ जीवन शैली, उचित आहार और नियमित एक्सरसाइज को अपनाकर मोटापे की समस्या को अपने से कोसो दूर रख सकता है।

पुरूषों के लिए अपना वजन कम करना क्यों महत्वपूर्ण है

बीमारियों से मुक्त और स्वस्थ जीवन जीने के लिए पुरूषों को अपने वजन को नियंत्रण में रखना या बड़े हुए वजन को कम करना बहुत ही जरूरी है। आदमी का वजन बढ़ना न सिर्फ उसके लिए अनअपीलिंग लुक और भद्दा लगता है बल्कि इससे जीवन के लिए खतरा उत्पन्न करने वाली बहुत सारी बीमारियां भी आपको अपनी चपेट में ले लेती है। मोटापा बढ़ने से निम्नलिखित बीमारियों के बढ़ने और इसके परिणामस्वरूप जीवन के लिए खतरा पैदा होने की आशंका बनी रहती है।

हाइपरटेंशन या उच्च रक्तचाप और कोलेस्ट्रोल की समस्या

ओवर वेट आदमी अक्सर उच्च रक्तचाप और कोलेस्ट्रोल की समस्या से पीडि़त रहता है। इन बीमारियों का अगर समय पर इलाज नहीं कराया जाता है तो आगे चलकर इसके परिणाम स्वरूप हृदय रोग और हदयघात के खतरे बढ़ जाते है।

हृदय रोग

ओवर वेट आदमी में हृदय की गति का तेज़ होना हृदय घात के खतरे, पतले आदमी की तुलना में कई गुना ज्यादा बढ़ जाता है। इस बीमारी से सालाना लाखों लोगों की असमय मौत हो जाती है। आधुनिक जीवन शैली और उसमें होने वाले तनाव के कारण समय से पहले और अचानक हृदयघात के खतरे पैदा होते है।

कैंसर

मोटापे से, खासकर पुरूषों में प्रोस्टेरेट ग्रंथी और आंत का कैंसर होने का खतरा रहता है।